केन्द्र की डाटा लायबे्ररी में 1250,000 एवं 150,000 मापक पर विभिन्न वर्षों के उपग्रह चित्रों के पेपर प्रिंट एवं उच्च आवर्धी डिजीटल डाटा उपलब्ध है। इनका उपयोग केन्द्र एवं प्रदेश के अन्य संस्थानों, शिक्षण संस्थाओं के शोधार्थियों द्वारा प्राकृतिक संसाधनों के मानचित्रण एवं सर्वेक्षण में किया जाता है। वर्तमान में उपग्रह पंजीकरण एवं एक्सेसन का कार्य पूर्णतः कम्प्यूटरीकृत विधि द्वारा किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त डाटा लायबे्ररी में विभिन्न प्राकृतिक संसाधनों के विषय वार मानचित्र, संदर्भ पुस्तिका, रिपोर्ट, शोधकार्य एवं सहायक डेटा उपलब्ध है।