उत्कृष्टता मिशन एक महत्वाकांक्षी एवं चुनौतीपूर्ण योजना है और इसका समन्वय म.प्र. विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद् द्वारा किया जा रहा है। इसका फोकस म.प्र. स्कूल एवं काॅलेज के छात्रों, युवा वैज्ञानिकों, कुषल कारीगरों, किसानों एवं ग्रामीणों, विषेष रुप से असंगठित सेक्टर की महिलाओं में से वैज्ञानिक प्रतिभाओं की पहचान कर उनके चयनित कार्यक्षेत्र में उनको उत्कृष्टता हेतु सहयोग देना है।

उत्कृष्टता मिशन का उद्देष्य उन प्रतिभावान विद्यार्थियों को जिनमें विज्ञान के प्रति अभिरूचि है, उनकी पहचान करना एवं उनके चयनित क्षेत्र में आगे बढ़ने हेतु उन्हें प्रोत्साहित करना है। इस कार्यक्रम के माध्यम से चयनित छात्रों को प्रषिक्षित कर उनकी वैज्ञानिक प्रतिभा को चिन्हित कर अनुसंधान एवं विकास के माध्यम से आगे बढ़ाया जाना है।

  • मध्यप्रदेष के प्रतिभावान विद्यार्थियों की पहचान एवं चयन कर उनके पोषण एवं प्रोत्साहन हेतु प्रषिक्षण एवं विज्ञान प्रतिभा खोज जैसे कार्यक्रम आयोजित करना। उच्चतम शैक्षणिक योग्यता वाले प्रतिभाषाली विद्यार्थियों की पहचान कर इन्हे पोषित करने तथा प्रोत्साहन देने की दिषा में यह मूलभूत कदम है। विज्ञान मंथन’ कार्यक्रम के लिए मध्यप्रदेष के जिलों के आठवीं, नौवीं, दसवीं, ग्यारहवीं एवं बारहवीं में अध्ययनरत प्रतिभाषाली विद्यार्थियों का चयन किया जाता है।
  • म.प्र. के छात्रों एवं आम जनों में विज्ञान और उत्कृष्टता के बारे में जागृति उत्पन्न करना एवं विकसित करना । युवाओं एवं विद्यार्थियों की प्रतिभा को मान्यता प्रदान करने हेतु पुरस्कार एवं छात्रवृति प्रदान करना तथा विषेष प्रोत्साहन हेतु राष्ट्रीय स्तर की विज्ञान प्रतिभा प्रतियोगिता और इसी तरह की अन्य प्रतियोगितायें आयोजित करना ।
  • किसानों, कारीगरों एवं कुषल श्रमिकों को प्रोत्साहित एवं प्रेरित करने हेतु उनकी कुषलता एवं उत्कृष्टता को राज्य एवं राष्ट्र स्तर पर प्रदर्षित करने के साथ प्रमाणीकरण एवं मान्यता प्रदान करना ।
  • ग्रामीण महिलाओं विषेष रुप से असंगठित क्षेत्र की महिलाओं की अन्वेषण, कुषलता एवं उनकी प्रतिभा को मान्यता प्रदान कर प्रोत्साहित करना ।
  • प्रदेष में विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी से संबंधित सभी विषयों के युवा वैज्ञानिकों के प्रोत्साहन एवं सहयोग हेतु राष्ट्रीय स्तर के शोध संस्थानों/प्रयोगषालाओं/विष्वविद्यालयों में सुविधा उपलब्ध कराना ।